समस्याओं के समाधान को 23 से आंदोलन की चेतावनी

जयन्त प्रतिनिधि।
श्रीनगर गढ़वाल। प्रगतिशील जनमंच के बैनरतले श्रीनगर की समस्याओं का समाधान न होने के विरोध में स्थानीय लोगों की बैठक आहुत की गई। बैठक में श्रीनगर को शुद्ध पेयजल उपलब्ध न कराए जाने, पानी के मीटर लगने के बाद बिलों में भारी बढ़ोत्तरी होने, एनआईटी के स्थायी परिसर निर्माण में लापरवाही बरते जाने व अस्पतालों में डाक्टरों की व्यवस्था न होने के विरोध में 23 जनवरी से आंदोलन करने का निर्णय लिया गया।
डालमिया धर्मशाला परिसर में आयोजित बैठक में प्रगतिशील जनमंच के अध्यक्ष अनिल स्वामी ने कहा कि लंबे समय से श्रीनगर की जनता उक्त मांगों को लेकर संघर्षरत हैं, लेकिन उनकी समस्याओं का समाधान करने को लेकर सरकार गंभीर नहीं है। जिसके विरोध में उन्हें 23 जनवरी से धरना-प्रदर्शन करने को विवश होना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि आंदोलन के तहत 30 जनवरी को श्रीनगर में जनाक्रोश रैली भी निकाली जाएगी। उन्होने कहा सरकार श्रीनगर वासियों को शुद्ध पानी उपलब्ध कराने, पानी के बढ़े हुए बिलों से आ रही समस्या, एनआईटी के स्थायी परिसर निर्माण को लेकर कतई गंभीर नहीं है। बैठक में पूर्व पालिका अध्यक्ष कृष्णानंद मैठाणी, राज्य आंदोलनकारी सुधाकर भट्ट, मदन मोहन नौटियाल, देव सिंह नेगी, गणेश गणपति भट्ट, हीरा लाल जैन, शंकर सिंह पटवाल, दयाराम पुरी, बीएस राणा, भारती जोशीव, अतुल सती, रेखा अग्रवाल, लक्ष्मी गुप्ता, रामेश्वरी देवी, कमली देवी, रजनी, मंजू, चंद्रिका, अंकित उछोली, विनोद मैठाणी, रमेश रावत, सदानंद पुरी आदि मौजूद रहे।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.