लापरवाह अधिकारियों के खिलाफ होगी कार्यवाही: महापौर

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। नगर निगम कोटद्वार महापौर हेमलता नेगी ने पुलिस अधिकारियों की बैठक लेते हुए कानून व्यवस्था को दुरस्त करने व यातायात व्यवस्था को सुचारू करने के निर्देश दिये। पुलिस अधिकारियों को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि क्षेत्र में आपराधिक घटनाओं को किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। लापरवाह पुलिस अधिकारियों के खिलाफ कार्यवाही अमल में जायी जायेगी। उन्होंने पुलिस अधिकारियों से पार्षदों के साथ भी सामंजस्य बैठाकर आपराधिक घटनाओं पर रोक लगाने के लिए कार्य योजना बनाने को कहा।
चन्द्रेश लखेड़ा द्वारा जारी विज्ञप्ति के अनुसार बुधवार को नगर निगम सभागार में पुलिस अधिकारियों की बैठक लेते हुए महापौर हेमलता नेगी ने नगर निगम क्षेत्र में बढ़ते स्मैक सहित मादक पदार्थों की अवैध कारोबार पर रोक लगाने के लिए अभियान चलाने को कहा। उन्होंने कहा कि बीट अधिकारी के क्षेत्र में स्मैक सहित मादक पदार्थों की बिक्री की शिकायत मिलने पर बीट अधिकारी के खिलाफ कार्यवाही अमल में लायी जायेगी। उन्होंने कहा कि सार्वजनिक स्थानों एवं संदिग्ध स्थानों को चिन्हित कर वहां पर सीसीटीवी कैमरे लगायें जाय। साथ ही अंधेरे वाले स्थानों पर स्ट्रीट लाइटे लगाने की बात कही। महापौर ने बाहरी लोगों सहित फेरी लगाने वाले लोगों का सत्यापन किये जाने के निर्देश देते हुए कहा कि कानून व्यवस्था को ठीक करने के लिए चैकिंग अभियान चलाना जरूरी है। उन्होंने शहर के विभिन्न स्थानों में लगे सीसीटीवी कैमरों के खराब पड़े होने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि खराब पड़े सीसीटीवी कैमरों की जगह नये सीसीटीवी कैमरे लगाने जरूरी है। जिससे चोरी की घटना को अंजाम देने वाले अपराधियों की पहचान हो सके। महापौर हेमलता नेगी ने शहर में रोजना लग रहे जाम की स्थिति से निपटने के लिए शहर से बाहर ही वाहनों के लिए पार्किंग स्थल चिन्हित किये जाने की बात कही। इस मौके पर उपजिलाधिकारी एवं नगर आयुक्त कमलेश मेहता, सहायक नगर आयुक्त राजेश नैथानी, एसएसआई राकेन्द्र कठैत, बाजार चौकी इंचार्ज रवीन्द्र नेगी सहित सभासद गायत्री भट्ट, गीता नेगी, सूरज प्रसाद कांति, विपिन डोबरियाल, कुलदीप काम्बोज, ज्योति देवी, ऋतु चमोली, अनिल रावत, सरिता देवी, हरीश नेगी, अंजूम सभा, बीना नेगी आदि मौजूद थे।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.