इंडिया/ऑस्ट्रेलिया : भारत ने रचा इतिहास, ऑस्ट्रेलिया में पहली बार जीती टेस्ट सीरीज

सिडनी। सिडनी में मौसम ने भले ही भारत को जीत से महरूम कर दिया हो लेकिन विराट कोहली ऐंड कंपनी को वह ऑस्ट्रेलिया में इतिहास रचने से नहीं रोक पाया। सोमवार को सिडनी टेस्ट के पांचवें दिन जब बारिश के कारण अंपायर्स ने स्टंप्स का फैसला लिया तब इसके साथ ही भारत ने चार टेस्ट मैचों की सीरीज पर 2-1 से कब्जा कर लिया। 1947 से लगातार ऑस्ट्रेलिया का दौरा कर रही भारतीय टीम वहां कोई सीरीज नहीं जीत पाई थी। लेकिन कोहली की कप्तानी में भारतीय टीम ने इतिहास रच दिया।
भारत ने अपनी पहली पारी में चेतेश्वर पुजारा और ऋषभ पंत के शतकों की मदद से 7 विकेट पर 622 रन बनाकर घोषित कर दी। इसके बाद कुलदीप यादव के पांच विकेटों की बदौलत भारत ने ऑस्ट्रेलिया को उसकी पहली पारी में 300 रनों पर समेट दिया। चेतेश्वर पुजारा को इस मैच के लिए मैन ऑफ द मैच और सीरीज में उनके उम्दा प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द सीरीज का खिताब दिया गया।
भारत ने 322 रनों की बढ़त के साथ ऑस्ट्रेलिया को फॉलोऑन दिया। लेकिन मौसम की आंख-मिचौली ने ऑस्ट्रेलिया को थोड़ी राहत दी। भारत का यह वहां 12वां दौरा था। भारत ने विदेशी दौरों पर अब सिर्फ साउथ अफ्रीका में टेस्ट सीरीज नहीं जीती है।
सिडनी में बारिश के चलते मैच के चौथे दिन के दो सत्र और अंतिम दिन पूरी तरह बारिश की भेंट चढ़ गया। जिसके बाद सीरीज का नतीजा 2-1 से भारत के नाम रहा। सीरीज की शुरुआत 6 दिसंबर से एडिलेड में हुई थी। यहां टीम इंडिया ने मेजबान टीम को 31 रन से मात दी थी। सीरीज का दूसरा टेस्ट पर्थ में खेला गया, जहां कंगारू टीम ने वापसी करते हुए सीरीज को 1-1 से बराबर कर दिया। पर्थ टेस्ट में भारत को 146 रन से हार मिली थी।
मेलबर्न में बॉक्सिंड डे टेस्ट में टीम इंडिया ने एक बार फिर वापसी की और यहां ऑस्ट्रेलिया को 137 रन के अंतर से हराकर सीरीज में एक बार फिर बढ़त (2-1) हासिल कर ली। यह पहला मौका था जब भारत ने ऑस्ट्रेलिया में कोई बॉक्सिंड डे टेस्ट अपने नाम किया हो। 2-1 की बढ़त लेकर भारत कंगारूलैंड में पहली बार सीरीज अपने नाम करने के इरादे से सिडनी पहुंचा और यहां टीम इंडिया ने इस मैच को जीतने में कोई कसर नहीं छोड़ी। लेकिन इस बार मेजबान टीम की हार को बारिश ने टाल दिया। टीम इंडिया इस दौरे पर अभी 3 वनडे मैचों की सीरीज भी खेलेगी। सीरीज का पहला मैच 12 जनवरी को सिडनी में ही खेला जाएगा।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.