एक क्लिक में पढ़िए कोटद्वार एवं उत्तराखण्ड की अब तक की खबरें

1962 व 1971 की जंग लड़ने वाले पंचम सिंह चौहान नहीं रहे
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। चीन व पाकिस्तान के साथ जंग में उल्लेखनीय वीरता का परिचय देने वाले रिखणीखाल क्षेत्र के पूर्व सैनिक एवं समाजसेवी पंचम सिंह चौहान नहीं रहे। अंगणी स्थित पैतृक घाट पर कल (आज) 7 दिसम्बर को उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा।
ग्राम अंगणी निवासी 78 वर्षीय पंचम सिंह वर्तमान में यहां काशीरामपुर तल्ला में अपने पुत्र के साथ रह रहे थे और कुछ समय से अस्वस्थ चल रहे थे। बुधवार को उन्होंने अंतिम सांस ली। वह अपने पीछे पत्नी व दो पुत्रों के भरे पूरे परिवार को छोड़ गए हैं। उनके दोनों पुत्र सेना में हैं और असम व जम्मू कश्मीर में तैनात हैं। पुत्रों के गुरूवार शाम तक पहुंचने पर शुक्रवार को उनकी पार्थिव देह को अंगणी के पैतृक घाट अंतिम संस्कार के लिए ले जाया जाएगा। अंगणी ग्रामवासी समूह की आकस्मिक बैठक में स्व. पंचम सिंह चौहान को श्रद्धांजलि दी गयी। उन्होंने बताया कि स्वर्गीय पंचम सिंह 1961 में गढ़वाल राइफल्स में भर्ती हुए और 1962 व 1971 की जंग में उन्होंने वीरता का अभूतपूर्व परिचय देते हुए घायल भी हुए। दोनों युद्ध में उन्हें गोलियां लगीं। वह चीन द्वारा युद्धबंदी भी बनाये गए और करीब डेढ़ माह बाद रिहा हुए थे। सेना के बाद वह अंगणी व क्षेत्र में सामाजिक गतिविधियों में सदैव सक्रिय रहे। लंबे समय तक ताड़केश्वर मंदिर समिति के स्वयं सेवक के रूप में उनका उल्लेखनीय योगदान रहा। धनवीर सिंह चौहान की अध्यक्षता में आयोजित श्रद्धांजलि सभा में अंगणी व आसपास गांवों के अनेक लोगों में शिरकत की।

श्री राम मंदिर निर्माण के लिए संसद में अध्यादेश लाया जाये
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। अन्तर्राष्ट्रीय हिन्दू परिषद के सदस्यों ने महामहिम राष्ट्रपति को ज्ञापन प्रेषित कर आयोध्या में श्री राम मंदिर निर्माण के लिए संसद में अध्यादेश लाकर कानून बनाने की मांग की है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार को जल्द ही कानून बनाकर श्री राम मंदिर का निर्माण शुरू करना चाहिए।
उपजिलाधिकारी कमलेश मेहता के माध्यम से महामहिम राष्ट्रपति को प्रेषित ज्ञापन में परिषद के जिलाध्यक्ष सत्य नारायण नौटियाल ने कहा कि श्री राम जन्म भूमि अयोध्या देश और दुनिया के करोड़ों हिन्दुओं की आस्था का केन्द्र है। जिसे विदेशी आक्रांता बाबर के सेनापति मिरबांकी द्वारा गिराकर बाबरी ढांचे में परिवर्तित किया गया। जिसके लिए हिन्दू समाज ने अब तक कई लड़ाईयां लड़ी व लाखों रामभक्त इन लड़ाईयों में बलिदान अपना बलिदान दे चुके है। उन्होंने कहा कि इस देश में रहने वाला प्रत्येक जनमानस अपने को राम का वंशज मानता है, लेकिन अपने आराध्य का अपमान देखकर दु:खी है। उन्होंने महामहिम राष्ट्रपति से लौह पुरूष सरदार बल्लभ भाई पटेल की तरह सोमनाथ की तर्ज पर संसद में कानून बनाकर अयोध्या श्री राम जन्म भूमि पर भव्य व दिव्य मंदिर बनाने की मांग की है। ज्ञापन देने वालों में कपिल राजपूत, विनीत भट्ट, नरोत्तर्म ंसह, मनोज भंडारी, चन्द्रकला, संजय गोदियाल, सतेन्द्र सिंह रावत आदि शामिल थे।

बैठक में मेयर और पार्षद पति के मौजूद होने से भड़के भाजपा पार्षद
दोषियों के खिलाफ कार्यवाही की मांग
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। नगर निगम कोटद्वार के पार्षदों ने आरोप लगाते हुए कहा कि नगर निगम की नव निर्वाचित मेयर द्वारा लगातार असंवैधानिक तरीके से कार्य किये जा रहे है। भाजपा पार्षदों ने नगर निगम कोटद्वार की बैठक में मेयर पति और पार्षद पतियों के मौजूद होने पर गुरूवार को तहसील परिसर में प्रदर्शन किया। उन्होंने प्रदेश के राज्यपाल को ज्ञापन प्रेषित कर दोषियों के खिलाफ कार्यवाही करने की मांग की है। उन्होंने मेयर पद की गरिमा को खंडित करने पर मेयर के खिलाफ धरना प्रदर्शन की चेतावनी दी है।
उपजिलाधिकारी कमलेश मेहता के माध्यम से प्रदेश के राज्यपाल को ज्ञापन प्रेषित करते हुए पार्षदों ने कहा कि नगर निगम कोटद्वार चुनाव में मेयर पद पर जनता द्वारा हेमलता नेगी को निर्वाचित किया गया, लेकिन मेयर द्वारा निर्वाचन के बाद लगातार असंवैधानिक तरीके से कार्य किये जा रहे है। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि मेयर द्वारा शपथ ग्रहण में ही कार्यक्रम का कांग्रेसीकरण कर दिया गया और नव निर्वाचित किसी भी पार्षद को ससम्मान मंच नहीं दिया गया तथा आम कांग्रेसी कार्यकर्ता को मंच पर बैठाया गया। उन्होंने कहा कि गत बुधवार को नगर निगम के सभागार में बैठक बुलाई गई, जिसकी जानकारी किसी भी पार्षद को नहीं दी गई। उक्त बैठक में पुलिस प्रशासन, तहसील और निगम के अधिकारियों को बुलाया गया। बैठक में मेयर पति सुरेन्द्र सिंह नेगी सहित पार्षद पति भी मौजूद थे। यही नहीं मेयर पति सुरेन्द्र सिंह नेगी बैठक में अधिकारियों को आदेश देते रहे। उक्त घटना से हम सभी पार्षद अपने अधिकारों को लेकर असमंजस में है। यदि भविष्य में यही पुनरावर्ती रही तो हम पार्षदगण सभी बैठकों का पुरजोर विरोध कर वाकआउट करेगें। उन्होंने कहा कि क्या बैठक में मेयर पति और पार्षद पति प्रवेश कर सकते है, मेयर पति अधिकारियों को निर्देशित कर सकते है, मेयर बिना पार्षदों की सहमति से कभी भी अधिकारियों की बैठक ले सकते है, असंवैधानिक हरकत पर नगर आयुक्त त्वरित कार्यवाही कर सकता है यह भी स्पष्ट किया जाना चाहिए। ज्ञापन देने वालों में पार्षद जयदीप नौटियाल, गायत्री भट्ट, मनीष भट्ट, सुभाष पाण्डे, सौरभ नौैडियाल, कुलदीर्प ंसह रावत, कमल नेगी, धीरज सिंह, ऋतु चमोली आदि शामिल थे।

मेयर पति के बैठक में मौजूद होने पर गरमाई राजनीति
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। नगर निगम कोटद्वार की बैठक में मेयर पति व पार्षद पति के मौजूद होने पर राजनीति गरमा गई है। इसके विरोध में बयानबाजी का दौर शुरू हो गया है। इसको लेकर सोशल मीडिया में भी जमकर राजनीति के साथ-साथ आम जनता ने भी आरोप प्रत्यारोप का दौर जारी है।
बता दें कि गत बुधवार को नगर निगम कोटद्वार सभागार में मेयर हेमलता नेगी ने अधिकारियों की बैठक ली। जिसमें उनके बगल में मेयर पति पूर्व मंत्री सुरेन्द्र सिंह नेगी भी बैठे हुए थे। इस बात की भनक लगते ही पत्रकार जैसे ही बैठक में जाने लगे तो उन्हें अंदर प्रवेश नहीं करने दिया था। जबकि बैठक में मेयर के साथ कुछ पार्षद व अधिकारी के अलावा मेयर पति सुरेन्द्र सिंह नेगी के साथ दो पार्षद पति भी मौजूद थे। एडवोकेट शोभा बहुगुणा भंडारी का कहना है कि ये कोटद्वार का दुर्भाग्य है कि बैठक में मेयर पति निर्देश दे रहे है। उन्होंने कहा कि उनकी सोच बता रही है कि जब महिला के पति को ही जिताना था तो महिला सीट क्यों की। उन्होंने कहा कि टिकट वितरण में महिलाओं की योग्यता और उनके हुनर को नजर अंदाज किया गया है।
राजेन्द्र अण्थ्वाल ने भाजपा के प्रदेश मंत्री ने बताया कि सोशल मीडिया के माध्यम से जानकारी मिली कि मेयर पति सुरेन्द्र सिंह नेगी नगर निगम कोटद्वार के सभागार में आयोजित बैठक में मौजूद थे। साथ में पार्षद पति भी मौजूद थे। उन्होंने कहा कि नियम में कहीं भी नहीं है कि बैठक में मेयर व पार्षद पति मौजूद रहेगें। जबकि जो पद पर रहता है वह ही अधिकारियों को निर्देश देने का हकदार है। उन्होंने कहा कि सुरेन्द्र्र ंसह नेगी पूर्व मंत्री व कई बार विधायक रहे है उनको जानकारी होनी चाहिए।
वही वार्ड नंबर 40 जशोधरपुर पार्षद मनीष भट्ट का कहना है कि गत बुधवार को नगर निगम सभागार में अधिकारियों की बैठक ली गई। जिसकी सूचना सभी पार्षदों को नहीं दी गई। उन्होंने कहा कि बैठक में मेयर पति सुरेन्द्र सिंह नेगी अधिकारियों को निर्देश दे रहे थे। जो उचित नहीं है। यह उनके अधिकारों का हनन है। इसे किसी भी कीमत में बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। उन्होंने कहा कि वह इसका पूर्ण रूप से विरोध करेगें।
वार्ड नंबर 24 बालासौड़ पार्षद नीरू बाला का कहना है कि जो पद पर है उसी को बैठक में मौजूद होना चाहिए। जब महिलाओं के लिए सीटें निर्धारित की गई है तो पतियों का बैठक में रहने कोई अधिकार नहीं है। उन्होंने कहा कि मेयर पति व पार्षद पति के हिसाब से काम नहीं होना चाहिए। नीरू बाला का कहना है कि महिलायें भी निर्णय लेने में सक्षम है।

महापौर ने सुनी ग्रामीणों की समस्या, निस्तारण का दिया आश्वासन
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। नगर निगम कोटद्वार महापौर हेमलता नेगी ने ग्रास्टनगंज क्षेत्र का भ्रमण कर लोगों की समस्याओं को सुना। उन्होंने अधिकारियों को ग्रामीणों की समस्याओं के समाधान के निर्देश दिये। साथ ही खोह नदी पर ग्रास्टनगंज को जोड़ने के लिए बन रहे मोटर पुल का निरीक्षण किया। उन्होंने पुल निर्माण में हो रही देरी के लिए विभागीय अधिकारियों की हीलाहवाली पर नाराजगी व्यक्त की।
महापौर हेमलता नेगी ने कहा कि पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में ग्रामीणों सहित सिद्घबली मंदिर जाने वाले श्रद्घालुओं की मांग पर उक्त पुल का निर्माण कार्य शुरू करवा दिया था, लेकिन विगत डेढ़ साल से उक्त पुल पर काम बंद पड़ा हुआ है। उन्होंने लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को पुल निर्माण की दिशा में कार्यवाही करने के निर्देश दिये थे। जिसके बाद हरकत में आये विभाग ने फिर से पुल पर निर्माण कार्य शुरू कर दिया है। अब जल्द ही पुल का निर्माण का पूरा हो जायेगा। उन्होंने विभागीय अधिकारियोे को पुल के दोना ओर सुरक्षा दीवार बनाये जाने के भी निर्देश दिये। महापौर ने ग्रास्टनगंज स्थित दशहरा मैदान के सामने खाली पड़ी जमीन पर पार्क एवं बच्चों के लिए खेल मैदान बनाये जाने की बात कही। हेमलता नेगी ने क्षेत्र में जगह- जगह हो रही लीकेजों के लिए विभागीय अधिकारियों को जिम्मेदार बताते हुए कहा कि जलसंस्थान के अधिकारियों की लापरवाही के कारण लोगों को पर्याप्त पीने का पानी नहीं मिल पा रहा है। उन्होंने जल संस्थान के अधिकारियों को क्षेत्र में पाइप लाइनों से हो रही लीकेजों को तत्काल ठीक करने के निर्देश दिये। इस मौके पर लोक निर्माण विभाग, सिंचाई विभाग, नलकूप खंड, जल संस्थान के अधिकारी सहित पूर्व काबीना मंत्री सुरेन्द्र सिंह नेगी, पार्षद हरीश नेगी, कुलदीप कम्बोज, विपिन डोबरियाल, लक्ष्मी देवी, संतोष बहुखंडी, सुशीला देवी, मीना देवी, सतीश चन्द्र आदि मौजूद थे।

असमय और अनियमित खान-पान ही मोटापे का मुख्य कारण
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। पतजंलि योग पीठ के तत्वाधान में आयोजित शिविर को संबोधित करते हुए योग प्रचारिका रेखा नेगी ने कहा कि आज की भाग-दौड़ भरी दिनचर्या में सब पाना बहुत कुछ कठिन होता जा रहा है। ऐसे में एक घंटे का योगाभ्यास न केवल हमें स्वस्थ तन-मन प्रदान करता है, बल्कि सकारात्मक विचारों से परिपूर्ण व्यक्तित्व भी प्रदान करता है। उन्होंने कहा कि मोटापा ही बीमारियों का घर है। असमय और अनियमित खान-पान ही मोटापे का मुख्य कारण है। यदि लोग नियमित रूप से सुबह जल्दी उठ कर अपना कुछ समय योग साधना को दें तो अधिकतर बीमारियां पैदा होने से पहले ही खत्म हो जाएगी।
सनेह क्षेत्र के अंतर्गत रामपुर में आयोजित शिविर पांच दिवसीय शिविर के चौथे दिन योग प्रचारिका रेखा नेगी ने पस्थित साधकों को सूर्य नमस्कार, यौगिक जॉगिंग, मर्कटासन, भुजंगासन, कपालभांति, अनुलोम-विलोम, अग्निसार, भ्रामरी तथा क्रियात्मक अभ्यास कराते हुए उनसे होने वाले लाभों के बारे में बताया गया। शिविर में सभी साधकों को योग प्रशिक्षिका द्वारा आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए सिंहासन व मन को प्रसन्न और आनंदित करने वाला हास्यासन भी कराया। योग प्रचारिका रेखा नेगी ने कहा कि दिनभर की भागदौड़ में से कुछ समय योग के लिए निकालना बेहद जरूरी है। उन्होंने कहा कि शुक्रवार को योग शिविर का समापन हवन यज्ञ के साथ किया जायेगा। इस मौके पर रचना भट्ट, भागवन्ती देवी, सरिता, शांति, पुष्पा, संगीता, मीना भट्ट, रितु भट्ट सहित कई ग्रामीण उपस्थित रहे।

किचन गार्डन व खेल मैदानों के चारों ओर लगेगी ग्रीन फेसिंग
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। जनपद पौड़ी की राष्ट्रीय सेवा योजना संचालित करने वाली शिक्षण संस्थाओं के कार्यक्रम अधिकारियों की बैठक में वर्ष 2018-19 के कार्यों की समीक्षा की गई। बैठक में प्रत्येक शिक्षण संस्था में एनएनएस किचन गार्डन व विद्यालय के खेल मैदानों के चारों ओर ग्रीन फेसिंग बनाने का निर्णय लिया गया।
गुरूवार को राजकीय बालिका इंटर कॉलेज कोटद्वार में आयोजित बैठक को संबोधित करते हुए रासेयो के गढ़वाल मंडल कार्यक्रम समन्वयक पुष्कर सिंह नेगी कहा कि प्रत्येक शिक्षण संस्था में स्वयं सेवियों के श्रमदान से किचन गार्डन तैयार किये जायेगें। उत्पादित साग-सब्जी का प्रयोग मध्यान भोजन योजना में किया जायेगा। पर्यावरण संरक्षण व हरियाली के लिए खेल मैदानों के चारों ओर छायादार व शोभादार पौधों का रोपण करके ग्रीन फेसिंग की जायेगी। उन्होंने कहा कि बी व सी प्रमाण पत्र परीक्षा के परीक्षाफल में सुधार के लिए सप्ताह में दो वादन एनएसएस के पाठ्यक्रम को पढ़ाया जायेगा। बैठक में कार्यक्रम अधिकारियों ने वित्तीय वर्ष 2016-17 व 2017-18 का अनुदान पीएफएमएस प्रक्रिया के माध्यम से खातों में लेने दने की बाध्यता को समाप्त करने की मांग की। बैठक में प्रधानाचार्य बृजेश रानी, कार्यक्रम अधिकारी परितोष रावत, डॉ. मंजू कपरवाण, सत्यपाल सिंह, बबीता ध्यानी, अल्का बिष्ट, सतीश मौर्य, रमाकान्त कुकरेती आदि मौजूद थे। बैठक का संचालन कार्यक्रम अधिकारी श्रीमती रेनू गौड़ ने किया।

सत्यव्रत अध्यक्ष, विकास आर्य बनें महासचिव
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। शैल शिल्पी विकास संगठन के तत्वाधान में भारत रत्न संविधान निर्माता डॉ. भीमराव अम्बेडकर के 63वें महापरिनिर्वाण दिवस पर उनके चित्र पर पुष्पाजंलि अर्पित कर भावभीनी श्रद्धाजंलि दी। इस मौके पर संगठन की नई कार्यकारिणी का गठन किया गया। जिसमें सत्यव्रत को अध्यक्ष, विकास कुमार आर्य को महासचिव, श्रीमती मीना बछवाण को कोषाध्यक्ष, सतीश प्रकाश को सचिव, सूरवीर खेतवाल को संगठन सचिव चुना गया। साथ ही सुरेन्द्र लाल आर्य, डॉ. सबल सिंह को आजीवन संगठन का संरक्षक चुना गया।
इस मौके पर वक्ताओं ने भारत के संविधान निर्माता डॉ. भीमराव अम्बेडकर के व्यक्तित्व एवं कृतित्व के विषय से सम्बन्धित जानकारी दी। उन्होंने कहा कि विभिन्न भाषाओं, बोलियों, नियमों व कानूनों के इस देश को संगठित कर सम्पूर्ण देश में एक कानून व्यवस्था लागू करने के लिए संविधान का निर्माण करना तात्कालिक परिस्थिति में आकाश के तारे तोड़ने जैसा कार्य था, लेकिन बाबा साहब के विचारों एवं अनुभवों के कारण यह असम्भव कार्य 2 वर्ष 11 माह 18 दिन में पूर्ण हुआ और देश को एक गर्व करने योग्य संविधान प्राप्त हुआ। उन्होंने बाबा साहब द्वारा दलितों के उत्थान हेतु किये गये प्रयासों का भी उल्लेख किया। कार्यक्रम में सर्वोदयी सेविका शशि प्रभा रावत, दर्शनलाल चौधरी, प्रवेश नवानी, मनवर सिंह आर्य, सुरेन्द्र लाल आर्य, श्रीमती मीना बछवाण, विकास आर्य, सतीश ओडवाल, चन्द्रमोहन राणा, सूरवीर खेतवाल, कै. पीएल खंतवाल, हरीश कुमार, प्रभुदयाल, सतीश प्रकाश आदि मौजूद थे।

बाबा साहब डॉ. अम्बेडकर को किया याद
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने बाबा साहब डॉ. भीमराव अम्बेडकर के 63वें महापरिनिर्वाण दिवस पर उनके चित्र पर पुष्पाजंलि अर्पित कर भावभीनी श्रद्धाजंलि दी। इस मौके पर डॉ. महेन्द्र, पूरण चन्द्र बहुखण्डी, खेल पुरस्कार सुप्रिया, शैलेन्द्र बिष्ट इंटर कॉलेज मोटाढांक, सामाजिक कार्यक्रर्ता तेजपाल सिंह, जय सिंह, राजेश्वरी देवी ने अतिथियों को स्मृति चिन्ह भेंटकर सम्मानित किया।
भाबर क्षेत्र के अंतर्गत शिवराजपुर में आयोजित कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि पर्यावरणविद सच्चिदानन्द भारती, सीओ जोधराम जोशी ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्ज्वलित कर किया। इस मौके पर सभा को सम्बोधित करते हुए वक्ताओं ने कहा कि बाबा साहब डॉ. भीमराव अम्बेडकर ने महिलाओं की शिक्षा, सुरक्षा, दलित समाज के हितों एवं उन्हें अधिकार दिलाने के लिए, समाज में फैली असमानता को दूर करने के लिए जीवन भर संघर्ष करते रहें। उनके तीन मूल मंत्र शिक्षित बनों, संगठित रहो एवं संघर्ष करो को सभी को अपने जीवन में अपनाने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि डॉ. भीमराव अम्बेडकर की प्रेरणा से ही आज भारत देश की सामाजिक व्यवस्था बनी है। दुनिया के सबसे बड़ी लोकतांत्रिक व्यवस्था व शक्तिशाली लोकतन्त्र का श्रेय डॉ. भीमराव अम्बेडकर को ही जाता है। कार्यक्रम का संचालन गौरव जोशी ने किया। कार्यक्रम में पार्षद मनोज पांथरी, गौरव जोशी, संजीव जखमोला, जिला संगठन मंत्री पृथ्वी सिंह राणा, डॉ. भीमराव अम्बेडकर जागृति समिति के संजीव सिंह, रोहित, अजय, गौरर्व ंसह, नरेन्द्र, मनमोहन, आकाश, विकास आदि मौजूद थे।

सड़कों का जीओ निरस्त करना राज्य हित में नहीं
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। जिला कांग्रेस के प्रवक्ता हयात सिंह मेहरा ने कहा कि वर्ष 2016 में स्वीकृत लगभग 42 हजार करोड़ रूपये की सड़कों का जीओ निरस्त करना राज्य हित में नहीं है। प्रदेश सरकार के फैसलों का कांग्रेस प्रवक्ता ने विरोध करते हुए कहा कि राज्य की त्रिवेन्द्र सरकार ने उत्तराखण्ड के हितों के विरूद्ध फैसले कर प्रदेश का बड़ा नुकसान किया है। वर्ष 2016-17 में पूर्ववर्ती हरीश रावत सरकार का बजट पारित हुआ। उसके बाद इन सड़कों को स्वीकृति दी गई थी।
जिला प्रवक्ता हयात सिंह मेहरा का कहना है कि भाजपा सरकार के इस फैसले से राज्य के विकास की गति अवरूद्ध होगी। सरकार का यह फैसला किसी भी रूप में उत्तराखण्ड के ग्रामीण क्षेत्रों के हित में नहीं है। उन्होंने कहा कि सड़कों को विकास का आधार मानते हुए पिछली कांगे्रस सरकार में प्रत्येक क्षेत्र के लिए सड़कों के निर्माण को सर्वोच्च प्राथमिकता दी जा रही थी, लेकिन प्रदेश में भाजपा सरकार आने के बाद मेरा गांव मेरी सड़क योजना बंद हो गयी। केन्द्र पर मोदी सरकार के दुष्प्रभावों से अगर कभी राज्य में वित्तीय संकट हुआ तो पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने अपने कुशल वित्तीय प्रबंधन से उसे महसूस नहीं होने दिया। हरीश रावत के कुशल वित्तीय प्रबंधन के चलते राज्य में कभी विकास की योजनाओं को रोका नहीं गया है। कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि प्रदेश की भाजपा सरकार विकास में विफल रही है। गरीबों का मिट्टी का तेल, चीनी व सस्ता राशन योजना बंद कर दी है। वृद्धा महिला पोषण योजना एवं गर्भवती महिला अतिरिक्त पोषण-योजना समाप्त कर दी है।

शैक्षिक उन्नयन गोष्ठी 15 को
जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। अनुसूचित जाति-जनजाति शिक्षक एसोसिएशन उत्तराखण्ड शाखा पौड़ी के तत्वाधान में आगामी 15 दिसम्बर को शैक्षिक उन्नयन गोष्ठी का आयोजन किया जायेगा।
एसोसिएशन के महामंत्री जगदीश राठी ने जानकारी देते हुए बताया कि नवाचारी शिक्षण एवं अभिनव प्रयोगों के महत्व विषय पर आयोजित गोष्ठी में हेमलता नेगी नगर निगम कोटद्वार मेयर मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद रहेगी। गोष्ठी में मुख्य वक्ता आरएल आर्य संयुक्त निदेशक एससीआरटी होगें। उन्होंने कहा कि गोष्ठी में गत वर्ष परिषदीय परीक्षा में हाईस्कूल, इंटर में अनुसूचित जाति-जनजाति के सर्वाधिक अंक प्राप्त कने वाले छात्रों को सम्मानित किया जायेगा।

जनपद में धूमधाम से मनाया जायेगा विजय दिवस
वीर सैनिकों व परिजनों को किया जायेगा सम्मानित
जयन्त प्रतिनिधि।
पौड़ी। मुख्य विकास अधिकारी दीप्ति सिंह ने जिलाधिकारी कार्यालय कक्ष में 16 दिसम्बर को जनपद में विजय दिवस मनाये जाने हेतु संबंधित अधिकारियों की बैठक ली। उन्होंने कहा कि गत वर्ष की भांति इस बार भी विजय दिवस को भव्य रूप से मनाया जायेगा। उन्होंने सैनिक कल्याण अधिकारी, उपजिलाधिकारी एवं नगर पालिका व पुलिस प्रशासन सहित संबंधित अधिकारी को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि इन वीर सैनिकों के पराक्रम से सैनिकों के साहस व वीरता को सच्ची श्रद्धाजंली युद्ध में प्रतिभाग करने वाले सैनिक/विधवा को कार्यक्रम में सम्मानित करना व हमारे देश के वीर सैनिकों में उत्साह बढ़ाना है।
बैठक को संबोधित करते हुए मुख्य विकास अधिकारी दीप्ति सिंह ने कहा कि 1971 की भारत-पाक (पूर्व पाकिस्तान बांग्लादेश) के बीच हुए युद्ध में हमारे देश के वीर सैनिकों ने अदम्य साहस एवं वीरता से विजय प्राप्त की। जिसे हम समस्त देशवासी इस ऐतिहासिक दिन को 16 दिसम्बर विजय दिवस के रूप में हर्ष उल्लास के साथ मनाते आ रहे हैं। उन्होंने सैनिक कल्याण अधिकारी को जनपद में चिन्हित ऐसे वीर सैनिक एवं उनके परिजनों को आयोजित कार्यक्रम में आंमत्रित कर सम्मान हेतु समुचित व्यवस्था करना सुनिश्चित करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि कार्यक्रम का आयोजन जिला मुख्यालय के कलेक्ट्रेट परिसर में प्रात: साढ़े 10 बजे किया जायेगा। जबकि ठीक प्रात: 10 बजे जनपद मुख्याल के तहसील रोड़ एजेन्सी चैक में नव निर्मित शहीद स्मारक पर पुष्पाजंलि अर्पित कर समारोह का शुभारम्भ होगा। कलेक्ट्रेट परिसर में विजय दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में जिलाधिकारी द्वारा युद्ध में भाग लेने वाले सैनिक/विधवा को शॉल/अंगवस्त्र भेंट कर सम्मानित किया जायेगा। साथ ही शैक्षणिक संस्थान के छात्र/छात्राओं द्वारा विजय दिवस पर आयोजित प्रतियोगिता में विजेता, उप विजेता व स्थान प्राप्त करने वाले छात्रों को भी सम्मानित किया जायेगा। अपर जिलाधिकारी रामजी शरण शर्मा ने आयोजित कार्यक्रम को गम्भीरता से लेने तथा सौंपे गये दायित्व को कुशलता पूर्वक सफल संचालन करने के निर्देश दिये। इस अवसर पर उपजिलाधिकारी श्याम सिंह राणा, पूर्व सूबेदार मेजर राजेन्द्र सिंह सचिव पूर्व सैनिक संघ, एसएचओ पौड़ी, सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी द्वारिका प्रसाद, ओनरी कैप्टन मदन सिंह सहायक सैनिक कल्याण अधिकारी पौड़ी, ओनरी कैप्टन मातबर सिंह पूर्व सैनिक कल्याण संघ, संतोष खेतवाल अपर मुख्य अधिकारी जिला पंचायत, पी सी ध्यानी मानचित्रकार संस्कृति विभाग सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

खेल महाकुंभ 11 से, सभी तैयारियां पूरी
जयन्त प्रतिनिधि।
पौड़ी। खेल महाकुंभ के तहत 11 दिसंबर से विभिन्न खेल प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाएगा। युवा कल्याण विभाग ने प्रतियोगिताओं के सफल संचालन को लेकर सभी तैयारियां पूरी कर ली है।
जिला युवा कल्याण एवं प्रांतीय रक्षक दल अधिकारी सत्यपाल सिंह नेगी ने बताया कि खेल महाकुंभ के तहत न्यायपंचायत, ब्लॉक और जिला स्तर में विभिन्न खेल प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाना है। इसके लिए खेल, शिक्षा और पंचायतीराज विभाग के साथ मिलकर योजना बना ली गई है। उन्होंने बताया कि न्याय पंचायत स्तर में 14 वर्ष से कम आयु वर्ग में, ब्लॉक स्तर में 14,17,19 आयुवर्ग और जिला स्तर में 14,17,19 व 19 से 25 आयुवर्ग (महिला) में खेल प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाएगा। न्यायपंचायत स्तर में 3, ब्लॉक स्तर में 5 और जिला स्तर पर 11 खेल प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाएगा।

राठ क्षेत्र की ताकत को समझना होगा: कोठियाल
जयन्त प्रतिनिधि।
पौड़ी। यूथ फाउंडेशनन के संस्थापक एवं निम के पूर्व प्रधानाचार्य कर्नल (रिटायर्ड) अजय कोठियाल ने राठ क्षेत्र का भ्रमण कर ग्रामीणों से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने फाउंडेशन के द्वारा सेना में भर्ती हुए युवाओं के परिजनों से भी मुलाकात की। साथ ही क्षेत्र के युवाओं को सेना में भर्ती होने के टिप्स भी दिए।
कर्नल (रिटायर्ड) अजय कोठियाल ने कहा कि फाउंडेशन लगातार युवाओं को सेना में भर्ती होने का नि:शुल्क प्रशिक्षण दे रहा है। उन्होंने बूंगा, कलूंण आदि गांवों का भ्रमण किया। भ्रमण के दौरान उन्होंने कहा कि राठ क्षेत्र के बारे में उन्होंने 27 साल पहले सुना था। जब वह 4 गढ़वाल राईफल में अफसर बने तो साक्षात्कार के दौरान राठ के बारे में सवाल पूछे गए। उन्होंने कहा कि पैठाणी, नौगांव, बागड़, बोंगा, पाबौ के युवाओं को सेना में भर्ती करके उन्हें यहां आने का मौका मिला है। यदि प्रदेश में छोटा सा योगदान देना है तो राठ क्षेत्र की ताकत को समझना होगा। इस मौके पर विजय सिंह, बृजमोहन सिंह, शशी कला, दलीप सिंह, शिव सिंह, दिव्यांशु बहुगुणा आदि शामिल थे।

केन्द्रीय मंत्री आज श्रीनगर में
जयन्त प्रतिनिधि।
पौड़ी। जनपद पौड़ी के श्रीनगर में आयोजित कार्यक्रम सामाजिक न्याय व आधिकारिकता मंत्रालय की राष्ट्रीय वयोश्री/एडिप योजना के अंतर्गत वरिष्ठ नागरिकों व दिव्यांग जनों को सहायक उपकरण वितरण शिविर में थावरचंद गहलोत मंत्री सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय भारत सरकार प्रतिभाग करेंगे।
जिला प्रशासन की जानकारी के अनुसार थावरचंद गहलोत मंत्री सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय भारत सरकार 7 दिसम्बर, को प्रात: 8:40 बजे जौलीग्रान्ट देहरादून से प्रस्थान कर 9:10 बजे गौचर हवाई पट्टी जिला चमोली पहुंचेगें। गौचर हवाई पट्टी से प्रस्थान कर 11 बजे जीआईएनटीआईटीएस ग्राउन्ड श्रीनगर जिला पौड़ी गढ़वाल में आयोजित कार्यक्रम में प्रतिभाग करेंगे। आयोजित कार्यक्रम के उपरान्त वह ढाई बजे श्रीनगर से गौचर हवाई पट्टी जिला चमोली के लिए प्रस्थान करेंगे। जहां से स्टेट प्लेन द्वारा जौलीग्रान्ट देहरादून के लिए प्रस्थान करेंगे।

वन मंत्री आज कोटद्वार में
जयन्त प्रतिनिधि।
पौड़ी। डॉ. हरक सिंह रावत वन एवं पर्यावरण मंत्री कल (आज) शुक्रवार से दो दिवसीय भ्रमण पर रहेगें।
जिला प्रशासन की जानकारी के अनुसार वन मंत्री शुक्रवार को प्रात: 8 बजे देहरादून से प्रस्थान कर साढ़े 10 बजे कोटद्वार पहुंचेगे। 11 बजे मंत्री बर्ड फेस्टिवल कार्यक्रम का विधिवत उद्धाटन करेंगे। इसके उपरान्त 4 बजे विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक लेंगे। जबकि 8 दिसम्बर को प्रात: 11 बजे मंत्री मोटाढांक कोटद्वार में दून इन्स्टीयूट ऑफ मेडिकल सांइस द्वारा आयोजित स्वास्थ्य शिविर का उद्घाटन करेंगे।

उच्च शिक्षा मंत्री व समाज कल्यााण मंत्री आज श्रीनगर में
जयन्त प्रतिनिधि।
पौड़ी। डॉ. धन सिंह रावत राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार), समाज कल्याण मंत्री यशपाल आर्य जनपद पौड़ी के श्रीनगर में आयोजित कार्यक्रम सामाजिक न्याय व आधिकारिकता मंत्रालय की राष्ट्रीय वयोश्री एवं एडिप योजना के अंतर्गत वरिष्ठ नागरिकों तथा दिव्यांग जनों को सहायक उपकरण वितरण शिविर में प्रतिभाग करेंगे।
जिला प्रशासन की जानकारी के अनुसार वह 7 दिसम्बर, को प्रात: 8:40 बजे जौलीग्रान्ट देहरादून से प्रस्थान कर 9:20 बजे गौचर हवाई पट्टी जिला चमोली पहुंचेगें। गौचर हवाई पट्टी से प्रस्थान कर 11 बजे जीआईएनटीआईटीएस ग्राउण्ड श्रीनगर जिला पौड़ी गढ़वाल में आयोजित कार्यक्रम में प्रतिभाग करेंगे। आयोजित कार्यक्रम के उपरान्त वे ढाई बजे श्रीनगर से गौचर हवाई पट्टी जिला चमोली के लिए प्रस्थान करेंगे। जहां से स्टेट प्लेन द्वारा जौलीग्रान्ट देहरादून के लिए प्रस्थान करेंगे।

जय हो छात्र संगठन ने फूंका सरकार का पुतला
जयन्त प्रतिनिधि।
श्रीनगर गढ़वाल। एचएनबी गढ़वाल विवि के गेट के सम्मुख जय हो छात्र संगठन ने एनआईटी शिफ्टिंग और स्थापना के लिए कोई कार्रवाई न किये जाने पर केन्द्र व राज्य सरकार का पुतला फूंका।
जय हो छात्र संगठन के गढ़वाल संयोजक पुष्पेन्द्र पंवार, जिलाध्यक्ष आयुष मियां, अंकित रावत के नेतृत्व में छात्रों ने विवि के गेट पर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। उन्होंने कहा कि श्रीनगर क्षेत्र से एनआईटी शिफ्ट किया गया तो इसका विरोध किया जायेगा। उन्होंने कहा कि सरकार छात्रों को जयपुर शिफ्ट कर रही है, किंतु एनआईटी निर्माण के लिए कोई कार्यवाही नहीं कर रही है। जल्द एनआईटी निर्माण नहीं किया गया तो उग्र आंदोलन किया जायेगा। उन्होंने कहा कि जल्द सरकार को एनआईटी कैंपस का निर्माण शुरु करना चाहिए। जबकि छात्रों ने रोडवेज बस अड्डे की शिफ्टिंग किये जाने का विरोध किया गया। इस मौके पर मनीष लखेड़ा, अंजुल रावत, अनामिका, ऋषभ, पुनीत, सौरभ सिंह, वैशाली, शामली रावत आदि मौजूद थे।

कुलपति का जताया आभार
जयन्त प्रतिनिधि।
श्रीनगर गढ़वाल। एचएनबी गढ़वाल विवि में कार्यरत नियमित शिक्षणेत्तर कर्मचारियों का ग्रेड पे बढ़ाये जाने पर विवि के कर्मचारियों ने विवि के कुलपति का आभार प्रकट किया।
गढ़वाल विवि के कर्मचारी परिषद के महासचिव रविन्द्र सिलवाल एवं उपाध्यक्ष पुष्कर सिंह चौहान ने कहा कि लम्बे समय से कर्मचारियों द्वारा ग्रेड-पे बढ़ाये जाने की मांग की गई थी, जिस पर विवि के कुलपति प्रो. अन्नपूर्णा नौटियाल, कुलसचिव डॉ. एके झा, सहायक कुलसचिव डॉ. संजय कुमार ध्यानी के प्रयास से कर्मचारियों की उक्त मांग पर स्वीकृति मिली है। उन्होंने विवि के सभी अधिकारियों का आभार प्रकट किया है। उन्होंने कहा कि ग्रेड-पे 2400 अनुमन्य किये जाने से कर्मचारियों को इसका लाभ मिलेगा।

छात्रों ने डीएसडब्ल्यू का पुतला फूंका
जयन्त प्रतिनिधि।
श्रीनगर गढ़वाल। एचएनबी गढ़वाल विवि के मुख्य गेट पर आर्यन छात्र संगठन ने विवि के डीएसडब्ल्यू पर छात्रों के साथ अभ्रदता किये जाने के आरोप में पुतला दहन करते हुए नारेबाजी की।
आर्यन छात्र संगठन के देवकांत देवराड़ी एवं महासचिव छात्रसंघ रामप्रकाश ने कहा कि चुनाव में पुनर्मतगणना को लेकर डीएसडब्ल्यू से वार्ता के लिए गये थे, किंतु डीएसडब्ल्यू द्वारा उनके साथ अभद्रता की गई। जिसको लेकर छात्रों ने रोष प्रकट करते हुए डीएसडब्ल्यू का पुतला दहन किया। छात्र नेता देवकांत देवराड़ी ने कहा कि छात्रसंघ चुनाव में अध्यक्ष पद पर ही धांधली हुई है, जबकि शिकायत भी अध्यक्ष पद के लिए हुई है, किंतु विवि प्रशासन सभी पदों पर पुनर्मतगणना की बात कह रहा है, जो कि गलत है। उन्होंने कहा कि यदि ऐसा किया गया तो आर्यन छात्र संगठन आंदोलन के लिए बाध्य होगा। इस मौके पर हिमांशु, सूरज, पवन, प्रवीन, लवीश राणा, सम्राट राणा, आशीष, अंकित आदि मौजूद थे।

बूंखाल मेले की तैयारियां शुरू
जयन्त प्रतिनिधि।
पौड़ी। थलीसैंण ब्लाक के बुंखाल में हर साल आयोजित होने वाले बूंखाल मां कालिंका मेले की लेकर तैयारियां शुरू हो गई है। हर साल बड़ी संख्या में श्रद्धालु बूंखाल मां कालिंका के दर्शनों के लिए विभिन्न क्षेत्रों से यहां पहुंचते हैं।
कभी पशुबलि के लिए पहचाने जाने वाले इस मेले को लेकर प्रशासन की चुनौतियां हालांकि अब वैसी तो नहीं रही लेकिन मेला क्षेत्र में व्यवस्थाएं बनाएं रखना भी कम चुनौती भरा नहीं रहता है। मंदिर तक जाने के लिए संकीर्ण मार्ग भी कई बार दिक्कतें पैदा करता है जबकि पार्किंग को लेकर भी दिक्कतें आती है। मंदिर समिति और स्थानीय जनप्रतिनिधियों व लोगों के सहयोग के साथ प्रशासन ने इस बार भी मेले की तैयारियां अपने स्तर से कर दी है। मेले के मद्देनजर फोर्स मेला क्षेत्र में शुक्रवार शाम से ही तैनात हो जाएगी। मेले को लेकर जिले भर से फोर्स मंगाई गई है। पैठाणी थाना प्रभारी डीएस असवाल ने बताया है कि मेले के आयोजन को लेकर मंदिर समिति और विभिन्न महकमों, स्थानीय जनप्रतिनिधियों के साथ ही बैठक का आयोजन किया गया है। मेला क्षेत्र में परिवहन आदि की व्यवस्थाओं के साथ ही बैठक में स्थानीय स्तर पर रखी समस्याओं का भी निस्तारण किया गया। उन्होंने बताया कि मंदिर गेट से दाहिने ओर मलुंड की ओर आदिबद्री तिराहा से वाहनों को आगे नहीं जाने दिया जाएगा और बांई तरफ खिूर्स की ओर से गोदा से थोड़ा आगे बैरियर की व्यवस्था होगी। आने वाले श्रद्धालुओं से भी अपील की गई कि वह अपने वाहनों को सही स्थानों पर ही खड़ा करें ताकि आवाजाही में दिक्कतें न हो। टैक्सी यूनियन पाबौ, पौड़ी और पैठाणी यूनियनों से भी इस बाबत अनुरोध किया गया।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.