असमय और अनियमित खान-पान ही मोटापे का मुख्य कारण

जयन्त प्रतिनिधि।
कोटद्वार। पतजंलि योग पीठ के तत्वाधान में आयोजित शिविर को संबोधित करते हुए योग प्रचारिका रेखा नेगी ने कहा कि आज की भाग-दौड़ भरी दिनचर्या में सब पाना बहुत कुछ कठिन होता जा रहा है। ऐसे में एक घंटे का योगाभ्यास न केवल हमें स्वस्थ तन-मन प्रदान करता है, बल्कि सकारात्मक विचारों से परिपूर्ण व्यक्तित्व भी प्रदान करता है। उन्होंने कहा कि मोटापा ही बीमारियों का घर है। असमय और अनियमित खान-पान ही मोटापे का मुख्य कारण है। यदि लोग नियमित रूप से सुबह जल्दी उठ कर अपना कुछ समय योग साधना को दें तो अधिकतर बीमारियां पैदा होने से पहले ही खत्म हो जाएगी।
सनेह क्षेत्र के अंतर्गत रामपुर में आयोजित शिविर पांच दिवसीय शिविर के चौथे दिन योग प्रचारिका रेखा नेगी ने पस्थित साधकों को सूर्य नमस्कार, यौगिक जॉगिंग, मर्कटासन, भुजंगासन, कपालभांति, अनुलोम-विलोम, अग्निसार, भ्रामरी तथा क्रियात्मक अभ्यास कराते हुए उनसे होने वाले लाभों के बारे में बताया गया। शिविर में सभी साधकों को योग प्रशिक्षिका द्वारा आत्मविश्वास बढ़ाने के लिए सिंहासन व मन को प्रसन्न और आनंदित करने वाला हास्यासन भी कराया। योग प्रचारिका रेखा नेगी ने कहा कि दिनभर की भागदौड़ में से कुछ समय योग के लिए निकालना बेहद जरूरी है। उन्होंने कहा कि शुक्रवार को योग शिविर का समापन हवन यज्ञ के साथ किया जायेगा। इस मौके पर रचना भट्ट, भागवन्ती देवी, सरिता, शांति, पुष्पा, संगीता, मीना भट्ट, रितु भट्ट सहित कई ग्रामीण उपस्थित रहे।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.